lovebet2021 apk

Publishing time:2021-10-17 21:24:36

lovebet कैसीनो ऐप lovebet2021 apk 188bet नया खाता,casumo निकासी सीमा,lovebet 2 गोल ऑफर,lovebet फिक्स मैच टिकट,lovebet रियल मैड्रिड जर्सी,lovebetा हिसोबनी तो'लदिरीश,बैकारेट 28 सेमी कांच का ढक्कन,बैकरेट चाकू ब्लॉक केवल,बीन स्पोर्ट 1,से सावधान रहेंबूढा आदमी,कैसीनो एफ एंड बी,च फुटबॉल क्लब,क्रिकेट 2021 खेल,क्रिकेट के नियम हिंदी में,esports là gì,फुटबॉल 11,फुटबॉल घड़ी बाधा,जीटीए कैसीनो कार,बैकरेट फाइव स्टार होंगहुई कैसे खेलें,एसएससी 2021 के लिए बेस्ट ऑफ फाइव है,जंगल रम्मी प्रश्नोत्तरी,लाइव कैसीनो खिम,लॉटरी डी सी,लूडो किंग गेम डाउनलोड,बाधाओं बाधा विश्लेषण,ऑनलाइन गेम पैसे कमाएं भारत,ऑनलाइन रियल मनी बेटिंग,पारिमैच निकासी,पोकर पूल मिशिगन रम्मी,री स्पोर्ट्स हॉबी,रम्मी 10 रुपये मुफ्त,तमिलनाडु में रम्मीकल्चर,स्लॉट मशीन ज़ीउस फ्री,खेल यूरो,एसएसजी,बैकारेट होटल,यूईएफए चैंपियंस लीग फुटबॉल सुपरस्टार,कौन सा फुटबॉल नेट बेहतर है,21 बजे pmd,ऑनलाइन पैसे बनाएं gov,क्रिकेट और कबड्डी,गोवा रात का जीवन,तीन पत्ती रम्मी गेम,बकरी दिखाओ,बैकारेट कैसे जीतें,स्टेटस इन हिंदी मीनिंग, .इंटरनेशनल फंड के बारे में जानिए अपने हर सवाल का जवाब

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

इंटरनेशनल फंड के बारे में जानिए अपने हर सवाल का जवाब

टैक्स के लिहाज से इंटरनेशनल फंड को वही दर्जा हासिल है, जो डेट म्यूचुअल फंड का है. इस फंड में तीन साल से कम समय तक निवेश बनाए रखने पर निवेशक को इसके मुनाफे पर शॉर्ट टर्म कैपिटल गेंस टैक्स देना पड़ता है.
पिछले कुछ समय से इंटरनेशनल फंड की बहुत चर्चा हो रही है. इसकी वजह इन फंडों में निवेशकों की बढ़ती दिलचस्पी है. हालांकि, अब भी निवेशकों को ऐसे फंड़ों के बारे में बहुत ज्यादा जानकारी नहीं है. इंटरनेशनल फंड का मतलब क्या है? क्या इन फंडों में निवेश का क्या फायदा है? क्या आपको इस फंड में निवेश करना चाहिए? आइए इन सवालों का जवाब जानने की कोशिश करते हैं.

इंटरनेशनल फंड में आपको क्यों निवेश करना चाहिए?
जोखिम घटाने के लिए इक्विटी म्यूचुअल फंडों के पोर्टोफोलियो का डायवर्सिफिकेशन जरूरी है. डायवर्सिफिकेशन का मतलब अलग-अलग तरह के फंडों में निवेश है. कई बार भारतीय अर्थव्यवस्था का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहता है, जबकि विदेशी बाजार का प्रदर्शन अच्छा होता है. दुनिया के कई बाजारों का भारत से ज्यादा संबंध नहीं है. ऐसे में इंटरनेशनल फंड में निवेश से डायवर्सिफिकेशन में मदद मिलती है. इससे आपका जोखिम घट जाता है.

निवेशकों के लिए इंटरनेशनल फंड में निवेश के लिए कौन-कौन से विकल्प हैं?
आज भारतीय निवेशकों के लिए इंटरनेशनल फंड के कई विकल्प हैं. ये देश, क्षेत्र, थीम और टेक्नोलॉजी पर आधारित हैं. कोई भारतीय निवेशक रुपये में इन इंटरनेशनल फंडों में निवेश कर सकता है. आप सामान्य म्यूचुअल फंड की तरह इंटरनेशनल फंड का चुनाव कर उसमें ऑनलाइन या ऑफलाइन निवेश कर सकते हैं.

इंटरनेशनल फंड किस तरह विदेशी शेयरों में निवेश करते हैं?
भारतीय बाजार में मौजूद इंटरनेशनल फंड सीधे विदेशी कंपनियों के शेयरों में या विदेश के दूसरे फंडों में निवेश करते हैं. दूसरे फंडों में निवेश को फीडर रूट कहा जाता है. यह एक तरह से फंड ऑफ फंड की तरह है.

यह भी पढ़ें : एनपीएस में निवेश की उम्र सीमा बढ़कर हो सकती है 70 साल!

इंटरनेशनल फंडों के रिटर्न पर किस तरह टैक्स लगता है?
टैक्स के लिहाज से इंटरनेशनल फंड को वही दर्जा हासिल है, जो डेट म्यूचुअल फंड का है. इस फंड में तीन साल से कम समय तक निवेश बनाए रखने पर निवेशक को इसके मुनाफे पर शॉर्ट टर्म कैपिटल गेंस टैक्स देना पड़ता है. टैक्स की दर निवेशक के टैक्स स्लैब के अनुसार होती है. तीन साल से ज्यादा वक्त तक फंड में निवेश बनाए रखने पर निवेशक को इंडेक्सेशन का फायदा मिलता है. इसकी वजह यह है कि इसे लॉन्ग टर्म कैपिटल गेंस माना जाता है. इंडेक्सेशन के बाद टैक्स की दर 20 फीसदी होती है.

क्या इंटरनेशनल फंड में निवेश करने में बहुत जोखिम है?
शेयरों में निवेश से जुड़े जोखिम के अलावा ऐसे फंड में निवेश से करेंसी का जोखिम भी जुड़ा होता है. दूसरे देश की मुद्रा के मुकाबले रुपये में कमजोरी और मजबूती का असर आपके रिटर्न पर पड़ता है. भारत में निवेशक रुपये में निवेश करता है. लेकिन, म्यूचुअल फंड कंपनी को उस देश की मुद्रा में इंटरनेशनल फंड में निवेश करना पड़ता है, जहां का वह फंड होता है. इसलिए इंटरनेशनल फंड में निवेश करने से पहले आपको करेंसी में होने वाले उतार-चढ़ाव के जोखिम के लिए तैयार रहना होगा.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

इंटरनेशनल फंडडेट फंडइक्विटी म्यूचुअल फंडम्यूचुअल फंडफंड ऑफ फंड

ETPrime stories of the day

How DealShare’s multitasking community leaders can help it build a Meesho for grocery beyond metros
Digital economy

How DealShare’s multitasking community leaders can help it build a Meesho for grocery beyond metros

12 mins read
PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business
Markets

Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business

8 mins read
इंटरनेशनल फंड के बारे में जानिए अपने हर सवाल का जवाब

लग्जरी ऑटोमोबाइल कंपनी बीएमडब्ल्यू ने नई 2021 आर नाइनटी पेश की है. यह सुपरबाइक चार वैरियंट- स्टैंडर्ड, प्योर, स्क्रैम्बलर और अर्बन जीएस में उपलब्ध है. ये बाइक्स अलग-अलग कलर कॉम्बिनेशन में हैं.इन मॉडल्स में अर्बन जीएस अल्पाइन वाइट के साथ टेप, ब्लैकस्टॉर्म मेटालिक/रेसिंग रेड और 40 साल का जीएस वर्जन भी उपलब्ध है. अन्य तीन मॉडल स्टैंडरड ग्रे मैट मेटालिक कलर में हैं.मारुति सुजुकी इंडिया, फोर्ड इंडिया और महिंद्रा एंड महिंद्रा जैसी वाहन कंपनियां भी जनवरी से अपने वाहनों के दाम में बढ़ोतरी की घोषणा कर चुकी हैं.वित्तीय लक्ष्‍यों तक जल्दी पहुंचने के लिए इक्विटी या डेट फंड में से किसमें निवेश करें?

भारतीय नियामकों का ऐसी करेंसी को लेकर रुख स्पष्ट नहीं है. उन्‍होंने साफ-साफ कुछ भी नहीं कहा है कि भारतीय इनमें ट्रेड करें या नहीं.पहले ही कार बनाने वाली कई कंपनियां अपने-अपने मॉडलों के दाम बढ़ाने का एलान कर चुकी हैं. ये जनवरी से गाड़‍ियों के दाम बढ़ाएंगी. इन कंपनियों में मारुति सुजुकी, फोर्ड, महिंद्रा एंड महिंद्रा और रेनॉ शामिल हैं.होंडा की कारें भी होंगी महंगी, जनवरी से बढ़ेंगे दाम

लग्जरी ऑटोमोबाइल कंपनी बीएमडब्ल्यू ने नई 2021 आर नाइनटी पेश की है. यह सुपरबाइक चार वैरियंट- स्टैंडर्ड, प्योर, स्क्रैम्बलर और अर्बन जीएस में उपलब्ध है. ये बाइक्स अलग-अलग कलर कॉम्बिनेशन में हैं.इन मॉडल्स में अर्बन जीएस अल्पाइन वाइट के साथ टेप, ब्लैकस्टॉर्म मेटालिक/रेसिंग रेड और 40 साल का जीएस वर्जन भी उपलब्ध है. अन्य तीन मॉडल स्टैंडरड ग्रे मैट मेटालिक कलर में हैं.बाजार नियामक सेबी ने एक्सपेंस रेशियो की सीमा तय की हुई है. ओपन एंडेड इक्विटी स्कीम के एयूएम के आधार पर सेबी ने विभिन्न स्‍लैब बनाए हैं.रेनॉ की गाड़‍ियां भी जनवरी से होंगी महंगी, 28,000 रुपये तक बढ़ेंगे दाम

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


बेस्ट ऑफ फाइव सीरीज एनबीए
लॉटरी लाइव खेला
पोकर ऑनलाइन गेम
करीना वायरल
कैसीनो का खेल
188bet ऑनलाइन
स्टेटस हिंदी ज़िन्दगी
खेलो पर जुआ from
क्रिकेट का
1,000 ट्रायल गोल्ड पाने के लिए बैकरेट के लिए रजिस्टर करें
ऑनलाइन गेम यति
पोकर mp40 रिडीम कोड
लॉटरी खेला 19 तारीख
स्पोर्ट्स न्यूज़ इन इंग्लिश
ऑनलाइन कैसीनो yggdrasil
फुटबॉल वेब गेम्स
इलेक्ट्रॉनिक खेल swimming
lovebetners.n
स्पेस उडीसी
लाइव ऑनलाइन कैश गेम
बैकारेट 3 टियर स्टैंड
ऑनलाइन पैसे कमाने के लिए बोर्ड गेम
एक्स फुटबॉल भविष्यवाणी
गीत काई टोंग ज़िउ
तीन पत्ती प्लस
lovebet 94 6
ईश्वर स्टेटस