रम्मीकल्चर ऑनलाइन गेम्स

Publishing time:2021-10-17 20:06:13

जीरो वॉच फ्री पर बेटिंग रम्मीकल्चर ऑनलाइन गेम्स betway लिंक,लियोवेगास ऐप एपीके,lovebet 7 ग्यारह,lovebet जॉब्स.bg,lovebet यू.एस.एस,365 ऑनलाइन स्पोर्ट्स बेटिंग,बैकारेट सट्टेबाजी की रणनीति,बैकारेट क्वे केमैन,पांच सेटों में से सर्वश्रेष्ठ,क्या मैं ऑनलाइन बैकारेट खेलकर पैसे जीत सकता हूँ?,गोवा का कैसीनो,शतरंज के सिद्धांत,क्रिकेट डी एल विधि कैलकुलेटर,डी पोकर APK,यूरोपीय कप फुटबॉल प्लेट,फुटबॉल डी आकार,जुआ अजीब और यहां तक ​​कि सट्टेबाजी कौशल,खुश किसान टी शर्ट,indibet,जैकपॉट पूरी फिल्म ऑनलाइन,नवीनतम जुआ इलेक्ट्रॉनिक गेम मशीन,लाइव रूले बेटफ़ेयर,लॉटरी नंबर चेक,एम.लवबेट99,ऑनलाइन कैसीनो खेल असलीपैसे,ऑनलाइन गेमिंग कैश नेटवर्क,ऑनलाइन स्लॉट दक्षिण अफ्रीका,पोकर 8 बॉल पूल,पोकरर 2 हैक,रूले अनवरोधित,रम्मी का अर्थ,सेकेंड हैंड क्रिकेट बुक डीलर्स,स्लॉट्स और प्रौद्ज़िवे पिएनिअद्ज़े,स्पोर्ट द स्टार,किशोर पत्ती ऑनलाइन खेलें,सबसे व्यापक बास्केटबॉल लाइव स्कोर,आभासी क्रिकेट अंपायर,win90pas xyz स्पोर्ट्सबुक इतिहास,अंडरसीज लीजेंड,कैटरीना खिलाड़ी,खेल लॉटरी नागिन,जोकर की फोटो,पोकर भजन,बेटा आवारा,रोस्टन चेस,स्टेटस रॉयल, .कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी, यह है वजह

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी, यह है वजह

कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में न्‍यूनतम मजदूरी में 15-20 फीसदी का इजाफा हुआ है.
मुंबई : पिछले कुछ महीनों में कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में काम करने वाले वर्कर्स की न्‍यूनतम दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी है. ये रियल एस्‍टेट, इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर, सीमेंट, स्‍टील, सड़क एवं हाईवे और शहरी विकास परियोजनाओं में काम करते हैं. मजदूरी में बढ़ोतरी की वजह लेबरों की कमी है. कंपनियों ने अपने पुराने प्रोजेक्‍टों को पूरा करने के लिए काम की रफ्तार बढ़ाई है.

कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में न्‍यूनतम मजदूरी में 15-20 फीसदी का इजाफा हुआ है. इस सेक्‍टर में करीब 5 करोड़ लोग काम करते हैं. मानव संसाधन प्रबंधन फर्म बेटरप्‍लेस के अनुमान के अनुसार, महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.

इसे भी पढ़ें : कोरोना के दौर में सैलरी बढ़ाने के लिए कैसे करें बातचीत?

मजदूरों को सबसे ज्‍यादा रोजगार कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में मिलता है. यह सेक्‍टर काफी कुछ असंगठित है. ज्‍यादातर वर्कर्स दिहाड़ी मजदूरी पर काम करते हैं. बेटरप्‍लेस के सीओओ सौरभ टंडन ने कहा कि लेबर की किल्‍लत के चलते कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में मजदूरी बढ़ी है. कंपन‍ियां तेजी से अपनी लंबित परियोजनाओं को पूरा करना चाहती हैं.

टॉप एग्‍जीक्‍यूटिव्‍ज के अनुसार, कुशल कामगारों की भारी किल्‍लत है. कारण है कि महामारी के बाद बड़ी संख्‍या में मजदूर अपने-अपने घरों से वापस नहीं लौटे हैं. रियल एस्‍टेट डेवलपर हीरानंदानी ग्रुप के एमडी निरंजन हीरानंदानी ने कहा कि हम बाहर से कुशल कारीगरों को लाने की कोशिश कर रहे हैं. ये ज्‍यादा मजदूरी की मांग करते हैं. इससे कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में औसत मजदूरी बढ़ी है. कुशल श्रमिकों की कमी सिर्फ रियल एस्‍टेट की समस्‍या नहीं है, बल्कि यह दिक्‍कत हर सेक्‍टर की है. बहुत कम लोगों के पास काम की कुशलता होती है.

इसे भी पढ़ें : सिर्फ 10% कर्मचारी ऑफिस लौटे : रिपोर्ट

इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर प्रोजेक्‍टों के बिल्‍डर केईसी इंटरनेशनल के सीईओ विमल केजरीवाल ने कहा कि फिटर और कारपेंटर जैसे कुशल कामगारों की मजदूरी 10-20 फीसदी बढ़ गई है. काम ज्‍यादा है. लंबित परियोजनाओं को पूरा करने का दबाव है. सभी साइटों पर पूरी क्षमता के साथ काम हो रहा है.

इंडस्‍ट्री के जानकार कहते हैं कि मध्‍यम और छोटे संस्‍थान जिनमें लॉकडाउन की शुरुआत में वर्कर्स को रोक पाने की क्षमता नहीं थी, उन्‍हें लेबरों को मंगाने में ज्‍यादा खर्च करना पड़ रहा है. कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर की बड़ी कंपनियों ने खाने-पीने और रहने की व्‍यवस्‍था उपलब्‍ध कराकर अपने वर्कर्स को बनाए रखा.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

द‍िहाड़ी मजदूरीमजदूरी में इजाफान्‍यूनतम द‍िहाड़ीकंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टरलेबरों की किल्‍लत

ETPrime stories of the day

As cryptocurrency bull run gets investors’ attention, smart scams, FOMO and greed are out to get you
Cryptocurrency

As cryptocurrency bull run gets investors’ attention, smart scams, FOMO and greed are out to get you

15 mins read
Ritesh Agarwal has steered Oyo from chaos to clarity. Is that enough to pull off a successful IPO?
Markets

Ritesh Agarwal has steered Oyo from chaos to clarity. Is that enough to pull off a successful IPO?

8 mins read
People vs. banks: Will the common man benefit as the transparency fight enters the last leg?
Banking

People vs. banks: Will the common man benefit as the transparency fight enters the last leg?

12 mins read
कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी, यह है वजह

बेटी की शिक्षा और शादी के लिए माता-पिता पैसा जोड़ पाएं, इस मकसद के साथ यह स्‍कीम लॉन्‍च की गई थी.समय गुजरने के साथ उन्‍हें इक्विटी में निवेश कम कर देना चाहिए. इसके बजाय धीरे-धीरे डेट फंडों की ओर रुख करना चाहिए.सैलरी के इन कंपोनेंट को समझ लें तो टैक्‍स बचत में होगी आसानी

सुकन्या समृद्धि स्‍कीम में बेटी के जन्‍म के बाद उसके नाम पर खाता खुलवाया जा सकता है. उसके 10 साल का होने तक ऐसा किया जा सकता है.अपने साथ की प्रतिद्वंद्वी कंपनियों के मुकाबले डॉ रेड्डीज लैब का वैल्यूएशन कम है. साथ ही बैलेंसशीट भी मजबूत है.मुझे रिटायरमेंट के लिए 19 साल में ₹1.24 करोड़ जुटाने हैं, कैसे प्लानिंग करूं?

अगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.सुपर साइकिल का ऐसे उठाएं फायदा, इन कमोडिटीज पर लगाएं दांव

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


lovebet 2 घंटे की निकासी
lovebet बी. हिलेगास
यू स्पोर्ट्स बास्केटबॉल
लॉटरी 787
lovebet 007
lovebet विवरण
तीन पत्ती ऑक्टो फ्री चिप्स
लीवगैस लाइसेंस
एचडी स्पोर्ट्स आईपीएल
lovebetग्रो
वेस्टवर्ड यात्रा मत्स्य पालन
क्रिकेट game
ऑनलाइन कैसीनो नौकरी भर्ती
बैकरेट जुआ
लाइव लाठी लास वेगास
स्पोर्ट्सबुक dafabet
क्रिकेट जर्सी नंबर
रमी ऐप्स
बैकारेट वेगास
lovebetो विवो
lottery वरदान या शाप
स्पेस उडीसी
कैसीनो bet365
आज का फुटबॉल मैच क्या है
यूरोपीय कप फुटबॉल बेबी वीडियो
बाजार में लॉटरी
lovebet कंपनी