बरसात शायरी इन हिंदी

बरसात शायरी इन हिंदी

time:2021-10-17 21:34:16 श्रीलंका ने कच्चे तेल के भुगतान के लिए भारत से 50 करोड़ डॉलर का ऋण मांगा Views:4591

बैकारेट लोरेन बरसात शायरी इन हिंदी betway पार्टनर्स,लीवगैस डाउनलोड ऐप,lovebet 9188,lovebet कोड प्रोमोसीजनी 2020,lovebet यूएसएसडी कोड,एक बैकारेट फ्रांस,बैकारेट कार्ड गिनती विधि,बैकरेट रोड पेपर फॉर्म,हर रोज इस्तेमाल के लिए सर्वश्रेष्ठ वाइब्रम पांच उंगलियां,नकदी प्रवाह विवरण उत्पादन,हरियाणा में कैसीनो गौरव दारू की कीमत,शतरंज वी एआई,क्रिकेट एक्सचेंज (पीसी के लिए लाइव लाइन),दिन सराय कैसीनो राम,यूरोपीय कप मकाऊ सट्टेबाजी,फ़ुटबॉल मुक्त अनुशंसा,जैकपॉट पार्टी कैसीनो जैसे खेल,हैप्पी हाइड्रो किसान,इंडिबेट रिवॉर्ड्स,जैकपॉट खेल ऑनलाइन कैसीनो,लाइव बैकरेट सट्टेबाजी का तरीका,एरिजोना में लाइव रूले,लॉटरी क्यूआर कोड स्कैनर,मेगा जैकपॉट गेम परिणाम,ऑनलाइन कैसीनो नौकरी भर्ती,ऑनलाइन लाइव मनोरंजन,बिना जमा बोनस के ऑनलाइन स्लॉट,पोकर एओ विवो पुर्तगाल,पूल रम्मी नाक,रूले ज़हलेन,रमी मोबाइल ऑन,असली पैसे के लिए सिक बो खेल,स्लॉट आरटीपी,खेल पानी की बोतल,तीन पत्ती अपडेट,सबसे प्रतिष्ठित गेमिंग कंपनी,वीआर रम्मीकल्चर डाउनलोड,विश्व कप समूह,असली पैसे का खेल wikipedia,कैटरीना वीडियो गाना,खेलो पर जुआ movie,जोकर तूने डाउनलोड,फुटबॉल इमेज,बेटा और पापा,लाटरी बाजार,स्टेटस हिंदी लाइफ love, .श्रीलंका ने कच्चे तेल के भुगतान के लिए भारत से 50 करोड़ डॉलर का ऋण मांगा

कोलंबो, 17 अक्टूबर (भाषा) विदेशी मुद्रा संकट का सामना कर रहे श्रीलंका ने अपने कच्चे तेल की खरीद का भुगतान करने के लिए भारत से 50 करोड़ डॉलर की ऋण सुविधा मांगी है।

श्रीलंका की तरफ से यह कदम ऊर्जा मंत्री उदय गम्मनपिला के उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने चेतावनी देते कहा था कि देश में ईंधन की मौजूदा उपलब्धता की गारंटी अगले साल जनवरी तक ही दी जा सकती है।

श्रीलंका की सरकारी तेल कंपनी सीलोन पेट्रोलियम कॉरपोरेशन (सीपीसी) पर पहले से देश के दो प्रमुख सरकारी बैंकों-बैंक ऑफ़ सीलोन और पीपल्स बैंक का लगभग 3.3 अरब डॉलर का बकाया है। सीपीसी पश्चिमी एशिया से कच्चे तेल और सिंगापुर समेत अन्य क्षेत्रों से परिष्कृत उत्पादों का आयात करती है।

स्थानीय समाचार वेबसाइट न्यूज़फर्स्ट.एलके ने सीपीसी के चेयरमैन सुमित विजेसिंघे के हवाले से कहा, ‘‘हम भारत-श्रीलंका आर्थिक साझेदारी व्यवस्था के तहत 50 करोड़ डॉलर की ऋण सुविधा प्राप्त करने के लिए वर्तमान में यहां भारतीय उच्चायोग के साथ बातचीत कर रहे है।’’

उन्होंने कहा कि इस ऋण सुविधा का उपयोग पेट्रोल और डीजल आवश्यकताओं की खरीद के लिए किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि वैश्विक स्तर पर तेल की कीमतों में बढ़ोतरी ने श्रीलंका को इस साल तेल आयात पर अधिक खर्च करने के लिए मजबूर किया है। पिछले साल की तुलना में इस वर्ष के पहले सात महीनों में देश का तेल बिल 41.5 प्रतिशत बढ़कर दो अरब डॉलर हो गया है।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Air India sale: With the government exiting Maharaja’s cockpit, can Tatas pilot the airline to glory?
Aviation

Air India sale: With the government exiting Maharaja’s cockpit, can Tatas pilot the airline to glory?

14 mins read
How troubled Srei lenders gave INR9,300 crore sweet loans to companies linked to Kanorias
Under the lens

How troubled Srei lenders gave INR9,300 crore sweet loans to companies linked to Kanorias

8 mins read
PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) वीएलसीसी हेल्थकेयर लिमिटेड ने एक विदेशी कंपनी को शेयर बेचकर करीब 37 करोड़ रुपये जुटाए हैं। कंपनी जल्द अपना आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) लाने की तैयारी कर रही है। कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय को दी जानकारी में कंपनी ने बताया कि उसने बहामास स्थित जैल होल्डिंग्स लिमिटेड को लगभग 37 करोड़ रुपये में 6,27,804 इक्विटी शेयर जारी किए गए हैं। सौंदर्य उत्पाद बनाने वाली घरेलू कंपनी वीएलसीसी इस राशि का इस्तेमाल कार्यशील पूंजी की जरूरत को पूरा करने के अलावा अपने कारोबार के साथ-साथ अपनी अनुषंगी इकाइयों के विस्तार पर करेगी। कंपनी द्वारा मंत्रालय(अभिषेक सोनकर) नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) शीर्ष उद्योग निकाय एमआईएमए के मुताबिक ‘‘अगर कोयले की कमी बनी रही तो’’ घरेलू स्पॉन्ज आयरन उद्योग दिसंबर तिमाही में नकारात्मक वृद्धि दर्ज कर सकता है।' स्पॉन्ज आयरन विनिर्माता संघ (एसआईएमए) के कार्यकारी निदेशक दीपेंद्र काशिवा ने कहा कि मौजूदा कोयला संकट के बीच जुलाई-सितंबर 2021 के दौरान भारत के स्पॉन्ज आयरन उत्पादन में इससे पिछली तिमाही के मुकाबले 60 प्रतिशत तक गिरावट हो सकती है। जेपीसी के आंकड़ों के मुताबिक जनवरी-मार्च 2021 के मुकाबले अप्रैल-जून 2021 में स्पॉन्ज आयरन उत्पादन 70 प्रतिशत बढ़ा था। उन्होंने बिना कोई ब्योरा दिए कहा कि चालूकोयला संकट के कारण घरेलू स्पॉन्ज आयरन क्षेत्र नकारात्मक वृद्धि दर्ज कर सकता है: उद्योग निकाय

(अभिषेक सोनकर) नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) शीर्ष उद्योग निकाय एमआईएमए के मुताबिक ‘‘अगर कोयले की कमी बनी रही तो’’ घरेलू स्पॉन्ज आयरन उद्योग दिसंबर तिमाही में नकारात्मक वृद्धि दर्ज कर सकता है।' स्पॉन्ज आयरन विनिर्माता संघ (एसआईएमए) के कार्यकारी निदेशक दीपेंद्र काशिवा ने कहा कि मौजूदा कोयला संकट के बीच जुलाई-सितंबर 2021 के दौरान भारत के स्पॉन्ज आयरन उत्पादन में इससे पिछली तिमाही के मुकाबले 60 प्रतिशत तक गिरावट हो सकती है। जेपीसी के आंकड़ों के मुताबिक जनवरी-मार्च 2021 के मुकाबले अप्रैल-जून 2021 में स्पॉन्ज आयरन उत्पादन 70 प्रतिशत बढ़ा था। उन्होंने बिना कोई ब्योरा दिए कहा कि चालूनयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) राष्ट्रीय परिसंपत्ति पुनर्गठन कंपनी (एनएआरसीएल) या बैड बैंक जल्द ही शेयरधारकों के उचित प्रतिनिधित्व और बेहतर कॉरपोरेट प्रशासन के लिए बोर्ड में और निदेशकों को शामिल करेगा। सूत्रों ने बताया कि निजी क्षेत्र के बैंकों की तरफ से शेयरधारकों का 49 प्रतिशत प्रतिनिधित्व होगा। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने इस महीने की शुरुआत में 6,000 करोड़ रुपये की एनएआरसीएल को लाइसेंस दिया था, जिसमें सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की 51 प्रतिशत हिस्सेदारी है। सूत्रों ने कहा कि निजी क्षेत्र के बैंकों की ओर से शेयरधारकों का 49 प्रतिशत प्रतिनिधित्व होगा। रिजर्व बैंक ने एनएआरसीएलविंटर वैकेशन में अमेरिका, ब्रिटेन में पढ़ रहे छात्रों की घर वापसी हुई महंगी, चुकाना पड़ सकता है तिगुना हवाई किराया

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) वीएलसीसी हेल्थकेयर लिमिटेड ने एक विदेशी कंपनी को शेयर बेचकर करीब 37 करोड़ रुपये जुटाए हैं। कंपनी जल्द अपना आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) लाने की तैयारी कर रही है। कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय को दी जानकारी में कंपनी ने बताया कि उसने बहामास स्थित जैल होल्डिंग्स लिमिटेड को लगभग 37 करोड़ रुपये में 6,27,804 इक्विटी शेयर जारी किए गए हैं। सौंदर्य उत्पाद बनाने वाली घरेलू कंपनी वीएलसीसी इस राशि का इस्तेमाल कार्यशील पूंजी की जरूरत को पूरा करने के अलावा अपने कारोबार के साथ-साथ अपनी अनुषंगी इकाइयों के विस्तार पर करेगी। कंपनी द्वारा मंत्रालयनयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (एफपीआई) अक्टूबर में अबतक भारतीय पूंजी बाजारों में शुद्ध बिकवाल बने हुए हैं। इससे पिछले दो माह के दौरान एफपीआई ने भारतीय बाजारों में निवेश किया था। विशेषज्ञों का कहना है कि रुपये में गिरावट तथा वैश्विक कारकों की वजह से एफपीआई बिकवाली कर रहे हैं। डिपॉजिटरी के आंकड़ों के अनुसार, चालू महीने में विदेशी निवेशकों ने अबतक भारतीय पूंजी बाजारों से शुद्ध रूप से 1,472 करोड़ रुपये की निकासी की है। ऋण या बांड बाजार को लेकर एफपीआई के रुख पूरी तरह पलट गया है। इससे पहले सितंबर में एफपीआईबैड बैंक के बोर्ड में जल्द और निदेशक शामिल होंगे

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
स्पोर्ट्सबुक एरिया

महंगे हवाई किराए की सबसे ज्यादा मार अमेरिका के पश्चिमी तट (US west coast) से भारत आने वाले छात्रों पर पड़ रही है। एक ट्रैवल एजेंट के मुताबिक,, "इस साल सिंगापुर, हॉन्गकॉन्ग और बैंकॉक के भारतीय यात्रियों के लिए बंद होने के कारण, यूएस वेस्ट कोस्ट के छात्रों के पास यूरोप (Europe) और मध्य पूर्व (Central East) के रास्ते यात्रा करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है।"

फुटबॉल परिसंघ

हर्ष गोयनका (Harsh Goenka) ने ट्विटर पर जो एप्पल मग मीम शेयर किया है, वह काफी वक्त से चल रहा है।

lovebet फ्री बेट ऑफर

लाहौर, 17 अक्टूबर (भाषा) पाकिस्तान ने एक चीनी कंपनी को सरकारी परियोजना में बोली के दौरान फर्जी दस्तावेज जमा करने के आरोप में काली सूची में डाल दिया है और उसे एक महीने के लिए किसी भी सरकारी निविदा में भाग लेने से रोक दिया है। समाचार पत्र ‘डॉन’ ने एक रिपोर्ट में चीनी कंपनी का नाम लिए बिना बताया कि पाकिस्तान की नेशनल ट्रांसमिशन एंड डिस्पैच कंपनी (एनटीडीसी) की एक परियोजना की बोली के दौरान जाली दस्तावेज जमा करने के लिए इस फर्म को काली सूची में डाला गया। एनटीडीसी महाप्रबंधक कार्यालय से दो दिन पहले जारी एक पत्र

ऑनलाइन मनोरंजन मंच

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड कोषों (ईटीएफ) में सितंबर में 446 करोड़ रुपये का निवेश आया। देश में त्योहारी सीजन के मद्देनजर मजबूत मांग के चलते निवेश का यह प्रवाह अभी जारी रहने की उम्मीद है। इससे पिछले महीने गोल्ड ईटीएफ में 24 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश आया था। एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के आंकड़ों के अनुसार, जुलाई में गोल्ड ईटीएफ से निवेशकों ने शुद्ध रूप से 61.5 करोड़ रुपये की निकासी की थी। गोल्ड ईटीएफ श्रेणी में अबतक शुद्ध रूप से 3,515 करोड़ रुपये का निवेश मिला है। सिर्फ जुलाई ऐसा

बैकरेट सट्टेबाजी सूचना नेटवर्क

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही दूरसंचार क्षेत्र की कंपनियों के लिए अच्छी साबित होगी। ग्राहक आधार बढ़ने से जियो का प्रदर्शन जहां मजबूत रहेगा, वही भारती एयरटेल और आइडिया-वोडाफोन को शुल्कों में वृद्धि से मदद मिलेगी। दूरसंचार क्षेत्र के कुछ विश्लेषकों ने यह उम्मीद जताई है। आईआईएफएल सिक्योरिटीज ने कहा कि शुल्कों में ऐसे समय बढ़ोतरी हुई है जबकि वोडाफोन आइडिया लिमिटेड (वीआईएल) का निकट भविष्य में नकदी बाह्य प्रवाह कम होने वाला है। आईआईएफएल ने अपने एक ताजा नोट में कहा, ‘‘दूरसंचार कंपनियों के लिए दूसरी तिमाही अच्छी रहने की संभावना है।

संबंधित जानकारी
खुश किसान नेट

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही दूरसंचार क्षेत्र की कंपनियों के लिए अच्छी साबित होगी। ग्राहक आधार बढ़ने से जियो का प्रदर्शन जहां मजबूत रहेगा, वही भारती एयरटेल और आइडिया-वोडाफोन को शुल्कों में वृद्धि से मदद मिलेगी। दूरसंचार क्षेत्र के कुछ विश्लेषकों ने यह उम्मीद जताई है। आईआईएफएल सिक्योरिटीज ने कहा कि शुल्कों में ऐसे समय बढ़ोतरी हुई है जबकि वोडाफोन आइडिया लिमिटेड (वीआईएल) का निकट भविष्य में नकदी बाह्य प्रवाह कम होने वाला है। आईआईएफएल ने अपने एक ताजा नोट में कहा, ‘‘दूरसंचार कंपनियों के लिए दूसरी तिमाही अच्छी रहने की संभावना है।

गरम जानकारी
लूडो वेब सीरीज

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही दूरसंचार क्षेत्र की कंपनियों के लिए अच्छी साबित होगी। ग्राहक आधार बढ़ने से जियो का प्रदर्शन जहां मजबूत रहेगा, वही भारती एयरटेल और आइडिया-वोडाफोन को शुल्कों में वृद्धि से मदद मिलेगी। दूरसंचार क्षेत्र के कुछ विश्लेषकों ने यह उम्मीद जताई है। आईआईएफएल सिक्योरिटीज ने कहा कि शुल्कों में ऐसे समय बढ़ोतरी हुई है जबकि वोडाफोन आइडिया लिमिटेड (वीआईएल) का निकट भविष्य में नकदी बाह्य प्रवाह कम होने वाला है। आईआईएफएल ने अपने एक ताजा नोट में कहा, ‘‘दूरसंचार कंपनियों के लिए दूसरी तिमाही अच्छी रहने की संभावना है।

बी लॉटरी परिणाम

नयी दिल्ली, 17 अक्टूबर (भाषा) चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही दूरसंचार क्षेत्र की कंपनियों के लिए अच्छी साबित होगी। ग्राहक आधार बढ़ने से जियो का प्रदर्शन जहां मजबूत रहेगा, वही भारती एयरटेल और आइडिया-वोडाफोन को शुल्कों में वृद्धि से मदद मिलेगी। दूरसंचार क्षेत्र के कुछ विश्लेषकों ने यह उम्मीद जताई है। आईआईएफएल सिक्योरिटीज ने कहा कि शुल्कों में ऐसे समय बढ़ोतरी हुई है जबकि वोडाफोन आइडिया लिमिटेड (वीआईएल) का निकट भविष्य में नकदी बाह्य प्रवाह कम होने वाला है। आईआईएफएल ने अपने एक ताजा नोट में कहा, ‘‘दूरसंचार कंपनियों के लिए दूसरी तिमाही अच्छी रहने की संभावना है।