लूडो नियंत्रक

लूडो नियंत्रक

time:2021-10-25 05:27:47 ओएनजीसी के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक? Views:4591

lovebet उच्चतम निकासी लूडो नियंत्रक betway केन्या जैकपॉट,fun88eu,lovebet 6446,lovebet जमी फोरम,lovebet टीवी,365 गेमिंग फोरम,बैकारेट बेटिंग फॉर्मूला,बैकारेट प्रोफेशनल प्ले,आईसीएसई कक्षा 10 . के लिए पांच नियमों का सर्वोत्तम नियम,क्या विदेशी फ़ुटबॉल जीत पर दांव लगाया जा सकता है,कैसीनो नियाग्रा,शतरंज ऊ,क्रिकेट पहेली किताब,डी कैसीनो मालिक,यूरोपीय कप फुटबॉल मैच के नियम,फुटबॉल कॉर्नर किक,जुआ मशीन,खुश किसान पीएनजी,इंडियाबेट हेल्पलाइन नंबर,जैकपॉट ड्राइंग,नवीनतम फुटबॉल सट्टेबाजी,लाइव रूले ऐप,लॉटरी रात परिणाम,m.lovebet मोबाइल जीआर,असली पैसे के लिए ऑनलाइन कैसीनो,ऑनलाइन गेम जोन,ऑनलाइन स्लॉट रियल मनी दक्षिण अफ्रीका,पोकर 63,पोकरदार यू,रूले टेबल लेआउट,रमी जैक,सबा वेबसाइट,स्लॉट्स एन बेट्स बोनस कोड,खेल तक,तीन पत्ती एक,सबसे सटीक Wynn उच्च स्कोर,आभासी क्रिकेट सिम्युलेटर लंदन,विलियम हिल स्टैंडबाय,star sports वन हिंदी लाइव,केरल लॉटरी रिजल्ट,खेल लॉटरी matka2,जोक हिंदी,पोकर फन,बेटा अब्दुल जरा बताओ,रेट्रो गार्डन,स्टेटस यूट्यूब, .ओएनजीसी के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक?

31 में से 23 विश्लेषक इस शेयर में खरीद की सलाह दे रहे हैं. 4 का कहना है कि इसे होल्ड करना चाहिए.
अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल (क्रूड) की कीमत मजबूत हुई है. इसके साथ ही ओएनजीसी में विश्लेषकों की दिलचस्पी भी कई गुना बढ़ गई है. अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में कंपनी का औसत रियलाइजेशन (प्राप्ति) 43 डॉलर प्रति बैरल रहा. लिहाजा, हाल में कच्चे तेल की कीमतों में उछाल से ओएनजीसी को फायदा हो सकता है. मध्यम अवधि में क्रूड की कीमत 50 डॉलर से 70 डॉलर प्रति बैरल के बीच स्‍टेबल रह सकती है. तेल निर्यात करने वाले देशों के संगठन ओपेक के हस्तक्षेप से ऐसा हो सकता है. पिछली बैठक में सऊदी अरब ने खुद से उत्पादन में रोजाना 10 लाख बैरल की कमी जारी रखने पर सहमति जताई थी. दूसरे देशों ने भी उत्‍पादन नहीं बढ़ाने पर हामी भरी थी.

पिछले 10 साल में ओएनजीसी अपने उत्पादन में कोई बड़ी बढ़ोतरी करने में नाकामयाब रही है. निवेशकों की चिंता का यह बड़ा विषय था. हालांकि, विश्लेषक कहते हैं कि ओएनजीसी प्रोडक्‍शन के स्‍तर को कायम रखने में सफल रही है. जबकि दूसरी अपस्ट्रीम ऑयल कंपनियां ऐसा नहीं कर सकीं. यही कारण है कि ओएनजीसी की कुल प्रोडक्‍शन में हिस्सेदारी पिछले 10 साल में 53 फीसदी से बढ़कर 70 फीसदी हो गई.

इसे भी पढ़ें : नई व्हीकल स्क्रैपेज पॉलिसी का आपके लिए क्‍या है मतलब?

ओएनजीसी का क्रूड ऑयल प्रोडक्‍शन स्थिर बने रहने के आसार हैं. 2022-23 तक ओएनजीसी की अपना घरेलू गैस उत्पादन 0.3 एमएमएससीएमडी (मिलियन मेट्रिक स्‍टैंडर्ड क्‍यूबिक मीटर्स रोजाना) बढ़ाकर 8-9 एमएमएससीएमडी कर लेने की योजना है. 2023-24 तक 15 एमएमएससीएमडी तक पहुंचाने की तैयारी है.

मोजांबिक में ओएनजीसी विदेश और ऑयल इंडिया समर्थित ऑनशोर एलएनजी डेवलपमेंट की अच्छी प्रगति है. रोवुमा ऑफशोर एरिया-1 प्रोजेक्ट ने हाल में पहला चरण पूरा कर लिया है. वह प्रोजेक्ट के लिए अपने कर्जदारों से पैसा पाने के लिए तैयार है.

इसे भी पढ़ें : सुकन्‍या समृद्धि योजना के बारे में जानिए अपने हर सवाल का जवाब

ऑयल और गैस सेक्टर की कंपनियों के लिए सरकार का हस्तक्षेप मुख्य चुनौती रही है. पेट्रोलियम प्रोडक्‍टों को जीएसटी व्यवस्था में शामिल करने की मांग बढ़ रही है. वैसे, पेट्रोल और डीजल पर जीएसटी लागू होने की संभावना अभी कम है. विश्लेषकों को उम्मीद है कि सरकार आने वाले वर्षों में घरेलू प्राकृतिक गैस के मूल्य में मौजूद विसंगति को दूर करेगी. इसके चलते घरेलू उत्‍पादन को नुकसान होता है. इसके बाद ओएनजीसी को उसकी घरेलू प्राकृतिक गैस के लिए अच्‍छी दरें प्राप्‍त होंगी.

ओएनजीसी अभी उचित वैल्यूएशन पर कारोबार कर रही है. विश्लेषकों का इस शेयर में आकर्षण बढ़ने का यह भी एक कारण है. इसकी कमाई में बड़ी बढ़ोतरी होने की उम्मीद है. 31 में से 23 विश्लेषक इस शेयर में खरीद की सलाह दे रहे हैं. 4 का कहना है कि इसे होल्ड करना चाहिए. 4 ने ही इसमें बिक्री की राय दी है.

master6

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें

टॉपिक

ONGC share priceओएनजीसी शेयर प्राइसन‍िवेश की सलाहउत्‍पादनक्रूडविश्‍लेषकों की रायओएनजीसी

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?
Electric vehicles

Financing is still a blind spot for EVs. Can Ola Electric be the game changer?

10 mins read
Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game
Artificial intelligence

Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game

15 mins read

इंडेक्‍स फंडों की तरह ईटीएफ अमूमन किसी खास मार्केट इंडेक्स को ट्रैक करते हैं. इनका प्रदर्शन उस इंडेक्‍स जैसा होता है.ईटीएफ नए निवेशकों के लिए अच्‍छा विकल्‍प है. इसके लिए डीमैट अकाउंट की जरूरत होगी.साल 2020 में कार और बाइक्स ने मचाई धूम, जानिए क्या है कीमत

एक साल पहले इस फंड के अनुभवी मैनेजर ने इस्तीफा दिया. हालांकि, स्‍कीम की बागडोर मजबूत प्रबंधन के हाथों में है. निवेश के तरीके में कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ है.चूंकि एफओएफ दूसरी म्‍यूचुअल फंड स्‍कीमों में निवेश करते हैं. लिहाजा, डुप्‍लीकेशन की कॉस्‍ट आ सकती है.मुझे रिटायरमेंट के लिए 19 साल में ₹1.24 करोड़ जुटाने हैं, कैसे प्लानिंग करूं?

साल 2020 पूरी तरह के कोरोना वायरस महामारी के नाम रहा. इसकी वजह से न सिर्फ दुनिया में आर्थिक मंदी का खतरा बढ़ गया, मगर कई इंडस्ट्रीज में सुस्ती का माहौल भी छा गया. इसमें ऑटो सेक्टर भी अछूता नहीं रहा.हालांकि, इस साल कई दिग्गज कार कंपनियों ने एक-के-बाद-एक बेहतरीन और शानदार कार और बाइक्स मार्केट में उतारी. सुपरफास्ट इंजन, आकर्षक लुक्स और महंगे दाम वाली कई कार और बाइक ने बाजार को अपना दिवाना बनाया. जानिए इस साल सड़कों पर उतरी कौनसे लग्जरी वाहन:एक साल पहले इस फंड के अनुभवी मैनेजर ने इस्तीफा दिया. हालांकि, स्‍कीम की बागडोर मजबूत प्रबंधन के हाथों में है. निवेश के तरीके में कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ है.बेटी की उम्र 8 साल है, सुकन्या समृद्धि और पीपीएफ में से किसमें निवेश करना फायदेमंद?

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
lovebet केन्या ऐप लॉगिन

फास्टैग इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन तकनीक है. इसमें रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (आरएफआईडी) का इस्तेमाल होता है. इस टैग को वाहन के विंडस्क्रीन पर लगाया जाता है.

लाइव रूले ऑनलाइन कैसीनो

बेटी की शिक्षा और शादी के लिए माता-पिता पैसा जोड़ पाएं, इस मकसद के साथ यह स्‍कीम लॉन्‍च की गई थी.

lovebet 50 बोनस

साल में कम से कम एक बार निवेश की समीक्षा जरूर करें और उसे दोबारा बैलेंस करें.

ऑनलाइन पैसे बनाएं rajasthani

साल 2020 पूरी तरह के कोरोना वायरस महामारी के नाम रहा. इसकी वजह से न सिर्फ दुनिया में आर्थिक मंदी का खतरा बढ़ गया, मगर कई इंडस्ट्रीज में सुस्ती का माहौल भी छा गया. इसमें ऑटो सेक्टर भी अछूता नहीं रहा.हालांकि, इस साल कई दिग्गज कार कंपनियों ने एक-के-बाद-एक बेहतरीन और शानदार कार और बाइक्स मार्केट में उतारी. सुपरफास्ट इंजन, आकर्षक लुक्स और महंगे दाम वाली कई कार और बाइक ने बाजार को अपना दिवाना बनाया. जानिए इस साल सड़कों पर उतरी कौनसे लग्जरी वाहन:

क्रिकेट 508

चूंकि एफओएफ दूसरी म्‍यूचुअल फंड स्‍कीमों में निवेश करते हैं. लिहाजा, डुप्‍लीकेशन की कॉस्‍ट आ सकती है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी