रील स्लॉट साम्राज्य

रील स्लॉट साम्राज्य

time:2021-10-17 21:13:26 मुझे महीने में 40,000 रुपये म्‍यूचुअल फंडों में निवेश करना है, किन स्‍कीमों में लगाऊं? Views:4591

188bet एनसेरार धर्मत्यागी रील स्लॉट साम्राज्य betway का क्या मतलब है,fun88 निकासी का समय,lovebet 6 राष्ट्र oफेर,lovebet जैकपॉट बोनस,lovebet ट्रू,365 शतरंज मूल्यांकन,बैकारेट बेट मैनेजमेंट,बैकारेट भविष्यवाणी सॉफ्टवेयर,पांच नियमों में से सर्वश्रेष्ठ,सी स्लॉट,हांगकांग के पास कैसीनो,शतरंज ना फ़ेज़बुकु,क्रिकेट सर्कल,कुटिल राज्य पुस्तक,यूरोपीय कप फुटबॉल लाइव स्कोर,फुटबॉल बदल गया मेजर,जुआ मुक्त पैसा,खुश किसान पीडीएफ,भारत शर्त ऑनलाइन,जैकपॉट दैनिक परिणाम,नवीनतम बोइंग प्लेटफॉर्म वेबसाइट,लाइव ऑनलाइन लाठी एनजे,लॉटरी नहीं,एम.क्रिकेट लाइव लाइन.कॉम,ऑनलाइन कैसीनो echtgeld merkur,ऑनलाइन गेम,ऑनलाइन स्लॉट क्यूबेक,पोकर 52 कार्ड,पोकर जिंगा फेसबुक,जीतने के लिए रूले रहस्य,रम्मी चित्र,सबा एंटरटेनमेंट अकाउंट खोलना,स्लॉट एलवी नो डिपॉजिट बोनस,500 . के तहत खेल के जूते,तीन पत्ती नई,लवबेट फोन नंबर,आभासी क्रिकेट की कीमत,विलियम हिल फुटबॉल सिफारिश,s स्टेटस व्हिडिओ डाउनलोड,किकेट 2020,खेल लॉटरी cansu,जैकेट boy,पोकर चिप,बूढ़े आदमी से सावधान,रीना साहू का गाना,स्टेटस माँ के लिए, .मुझे महीने में 40,000 रुपये म्‍यूचुअल फंडों में निवेश करना है, किन स्‍कीमों में लगाऊं?

निवेश की रणनीति जब त‍क बिल्कुल स्पष्ट न हो, सिप के जरिये निवेश करना ज्‍यादा समझदारी है.
प्रताप 44 साल के हैं. अपने निवेश के साथ वह काफी ज्‍यादा जोखिम ले सकते हैं. उनके पास हर महीने 40,000 रुपये बच जाते हैं. इस पैसे को वह इक्विटी म्‍यूचुअल फंडों में आठ से 10 साल के लिए लगाना चाहते हैं. इसके लिए प्रताप कुछ स्‍कीमों के बारे में जानने को इच्‍छुक हैं. उनका यह भी सवाल है कि क्‍या बाजार में जिस दिन बड़ी गिरावट आए, उस दिन एकमुश्त निवेश में समझदारी है?

आइए, जानते हैं कि एक्‍सपर्ट प्रताप को क्‍या सलाह दे रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : एनपीएस में निवेश किया है? जानिए एसेट एलोकेशन में कैसे करें बदलाव

स्‍टेबल इंवेस्‍टर के संस्थापक और सेबी पंजीकृत निवेश सलाहकार देव आशीष कहते हैं कि प्रताप ने बताया है कि वह निवेश के साथ ज्‍यादा जोखिम ले सकते हैं. साथ ही निवेश के लिए उनके हाथ में समय भी काफी ज्‍यादा है. इन बातों को देखते हुए वह एचडीएफसी निफ्टी50 इंडेक्‍स, आईसीआईसीआई प्रू निफ्टी नेक्‍स्‍ट50 इंडेक्‍स, पराग पारेख फ्लेक्‍सीकैप (लॉन्‍ग टर्म इक्विटी) फंड और मिराए एसेट इमर्जिंग ब्लूचिप में से तीन या चार इक्विटी फंडों से शुरुआत कर सकते हैं.

समय गुजरने के साथ उन्‍हें इक्विटी में निवेश कम कर देना चाहिए. इसके बजाय धीरे-धीरे डेट फंडों की ओर रुख करना चाहिए. जहां तक बड़ी गिरावट के दिन एकमुश्त निवेश की तुलना में सिप का सवाल है तो यह सुनने और सिद्धांतों में आकर्षक लगता है. गिरावट पर खरीदना अच्छा आइडिया है. लेकिन, इसमें व्यावहारिक समस्या है.

इसे भी पढ़ें : ईटीएफ के बारे में यहां जानिए अपने हर सवाल का जवाब

मान लीजिए कि आपको बड़ी गिरावट का इंतजार करने के लिए कई महीनों का समय लग जाए. वहीं, बाजार इस दौरान तेजी के रथ पर सवार हो. इस तरह इन महीनों के बीच आप निवेश का मौका गंवा देंगे.

लिहाजा, निवेश की रणनीति जब त‍क बिल्कुल स्पष्ट न हो, सिप के जरिये निवेश करना ज्‍यादा समझदारी है. मौजूदा निवेश की रकम और अपने एसेट एलोकेशन को लेकर भी ध्यान रखना चाहिए.

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें
(Disclaimer: The opinions expressed in this column are that of the writer. The facts and opinions expressed here do not reflect the views of www.economictimes.com.)

टॉपिक

इक्विटी म्‍यूचुअल फंडसिपरिटर्नहर महीने निवेशजोखिम

ETPrime stories of the day

How DealShare’s multitasking community leaders can help it build a Meesho for grocery beyond metros
Digital economy

How DealShare’s multitasking community leaders can help it build a Meesho for grocery beyond metros

12 mins read
PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business
Markets

Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business

8 mins read

सुकन्या समृद्धि स्‍कीम में बेटी के जन्‍म के बाद उसके नाम पर खाता खुलवाया जा सकता है. उसके 10 साल का होने तक ऐसा किया जा सकता है.बेहतर और सरल रिटर्न के लिए निवेशक साधारण प्रोडक्ट्स का रुख कर रहे हैं. सरकार ने अप्रैल-जून तिमाही में ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है.क्‍या आपको फंड ऑफ फंड्स में निवेश करना चाहिए?

समय गुजरने के साथ उन्‍हें इक्विटी में निवेश कम कर देना चाहिए. इसके बजाय धीरे-धीरे डेट फंडों की ओर रुख करना चाहिए.सुकन्या समृद्धि स्‍कीम में बेटी के जन्‍म के बाद उसके नाम पर खाता खुलवाया जा सकता है. उसके 10 साल का होने तक ऐसा किया जा सकता है.ओएनजीसी के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक?

दिग्गज आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान ग्रोथ देने के चलते साल 2021-22 के लिए कर्मचारियों की सैरली बढ़ाई है.कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.फ्रैंकलिन टेंपलटन की छह बंद योजनाओं को मिले 15,776 करोड़ रुपये

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
lovebet 1. बुंडेसलीगा

उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के विभिन्न फॉर्मेट में चुनौतियों और अड़चनों को दूर करने के लिए सीआईआई के तहत खुदरा सेक्‍टर के लोगों का मानना है कि सरकार को एक मजबूत रिटेल पॉलिसी लानी चाहिए.

ऑनलाइन रियल मनी माहजोंग गेम

सर्वे में 20 से ज्‍यादा इंडस्‍ट्रीज की 1,200 कंपनियों की प्रतिक्रिया ली गई. इनमें से 1,000 ने इस साल वेतनवृद्धि के लिए कहा है.

कॉमोन ऐप

कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.

फुटबॉल खाते की अच्छी प्रतिष्ठा है

भारतीय शहरों में करीब 15 फीसदी कंपनियों की फरवरी से अप्रैल 2021 के बीच फ्रेशर्स को भर्ती करने की योजना है. लर्निंग सॉल्‍यूशंस फर्म टीम लीज एडटेक के सर्वे से इसका पता चलता है. टीमलीज एडटेक के सीईओ शांतनु रूज ने कहा कि कोरोना की महामारी के बावजूद कंपनियों के एजेंडे में फ्रेशर्स की हायरिंग है.

जुआ खेल मशीन पक्षी और जानवर

विशेषज्ञों का कहना है कि औद्योगिक कमोडिटीज में निवेश से सोने के मुकाबले बढ़िया रिटर्न मिल सकता है

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी