स्टेटस ॲप

स्टेटस ॲप

time:2021-10-27 08:32:07 सिप टॉप-अप फैसिलिटी के बारे में यहां जानिए अपने हर सवाल का जवाब Views:4591

JDB इलेक्ट्रोनिक स्टेटस ॲप 10cric का नवीनतम संस्करण,casumo बोनस शर्तें,लियोवेगैस ऑफर,lovebet सट्टेबाजी युक्तियाँ,lovebet n17 0ry,lovebet वाई हाशिंडा,इक्का 3 रम्मी डाउनलोड,बैकारेट अंडे का शिकार करने वाला,बैकारेट शब्द,सट्टेबाजी बाधा अर्थ,कैसीनो 96,कैसीनो थियेटर,क्लासिक रम्मी लॉगिन,लाइव में क्रिकेट,ई कैसानोवा,यूरोपीय फ़ुटबॉल ऑनलाइन रहते हैं,फ़ुटबॉल मैच पर प्रकाश डाला गया,उत्पत्ति कैसीनो कोकेमुक्सिया,मैं बैकारेट कैसे जीत सकता हूँ?,आईपीएल हाइलाइट्स 2019,जैकपॉट परिणाम आज शाम 7.30 बजे,लाइव लाठी gamstop पर नहीं,लाइव रूले जीरो,लॉटरी वॉशिंगटन,खेल नेटवर्क,बिक्री के लिए ऑनलाइन कैसीनो सॉफ्टवेयर,ऑनलाइन पोकर खेल असली पैसे,परिमच डाउनलोड,पोकर चेहरा हिंदी में मतलब,आर स्लॉट वस्तु,घर पर राज करो,रम्मी द ग्रेट गैम्बलर imdb रेटिंग,स्लॉट मशीन मुफ्त गेम,खेल 1.0,स्पोर्ट्सबुक फॉक्सवुड्स,टेक्सास होल्डम कैसे करें,आज के फुटबॉल मैच का समय,एक अच्छी बेटिंग साइट क्या है,एक्स लॉटरी,इलेक्ट्रॉनिक खेल up,कैसीनो गेम डाउनलोड,गोवा ऑल इमेज,झारखंड लॉटरी रिजल्ट,फुटबॉल रिजल्ट,बेटा बलिदान,लॉटरी गोल्ड,स्पोर्ट्स शायरी .सिप टॉप-अप फैसिलिटी के बारे में यहां जानिए अपने हर सवाल का जवाब

इस विकल्प के जरिये निवेशक सिप की रकम बढ़ा सकते हैं.
कई निवेशक हर साल अपनी सालाना इनकम बढ़ने के साथ सिप की रकम में बढ़ोतरी करते हैं. यह बढ़ोतरी सिप टॉप-अप फैसिलिटी के जरिये की जाती है. आइए, यहां इस फैसिलिटी के बारे में जानते हैं.
  1. सिप टॉप-अप फैसिलिटी का क्‍या मतलब है?
    सिप टॉप-अप एक तरह की फैसिलिटी है. इसमें सिप के लिए एनरोल कराने वाले निवेशक को विकल्प मिलता है. इस विकल्प के जरिये वे सिप की रकम बढ़ा सकते हैं. यह बढ़ोतरी एक फिक्‍स्‍ड प्रतिशत या रकम में होती है. इसके लिए समय पहले से निर्धारित किया जाता है. इस बढ़ोतरी को भविष्‍य की इनकम और ग्रोथ के साथ लिंक किया जा सकता है.
  2. सामान्‍य सिप और सिप टॉप-अप में क्‍या अंतर है?
    सामान्‍य सिप के मामले में निवेशक सिप की अवधि में अपना कॉन्ट्रिब्‍यूशन नहीं बढ़ा सकते हैं. अगर वे इसे बढ़ाना चाहते हैं तो उन्‍हें नए सिरे से सिप शुरू करना होगा या एकमुश्त निवेश करने की जरूरत होगी. स्‍टेप-अप सिप निवेशकों को अपने सिप कॉन्ट्रिब्‍यूशन को ऑटोमेट करने की सहूलियत देता है. वे इनकम में अपेक्षित ग्रोथ के साथ सिप की रकम बढ़ा सकते हैं.
  3. सिप टॉप-अप फैसिलिटी कैसे काम करती है?
    सिप टॉप-अप फैसिलिटी का इस्तेमाल कर निवेशक चल रही सिप में मासिक कॉन्ट्रिब्‍यूशन बढ़ा सकते हैं. उदाहरण के लिए अगर आप सिप में हर महीने 10,000 रुपये निवेश करते हैं और कैलेंडर वर्ष/वित्त वर्ष के अंत में हर महीने 1,000 रुपये जोड़ना चाहते हैं तो आप टॉप-अप फैसिलिटी का इस्तेमाल कर सकते हैं. जहां कुछ फंड हाउस इसे टॉप-अप कहते हैं तो कुछ सिप बूस्‍टर या सिप स्‍टेप-अप फैसिलिटी. ज्यादातर प्रमुख फंड हाउस निवेशकों को यह फैसिलिटी देते हैं.
  4. फाइनेंशियल प्लानर सिप टॉप-अप फैसिलिटी लेने की क्‍यों सलाह देते हैं?
    कई छोटे निवेशक लंबी अवधि के लक्ष्‍यों के लिए सिप चलाते हैं. इनमें घर खरीदना, बच्‍चों की शिक्षा, उनकी शादी या अपना रिटायरमेंट शामिल होता है. फाइनेंशियल प्‍लानर सुझाव देते हैं कि निवेशकों को टॉप-अप फैसिलिटी का विकल्प चुनना चाहिए. कारण है कि यह अपने आप महंगाई को ध्‍यान में रखता है. ज्यादातर लोगों की सैलरी सालाना बढ़ती है. लिहाजा, निवेशक सालाना सिप की रकम बढ़ा सकते हैं. टॉप-अप फैसिलिटी के जरिये यह काम आसानी से हो जाता है.
  5. टॉप-अप फैसिलिटी के साथ किस तरह की चुनौतियां आती हैं?
    टॉप-अप सिप इस अनुमान पर आधारित होता है कि निवेशकों की इनकम साल में बढ़ेगी. ऐसे कई मामले आते हैं जब खर्च बढ़ते हैं और इनकम उस रफ्तार में नहीं बढ़ती है. इस महामारी के दौर में हमने देखा है कि कैसे लोगों की नौकरी गई है. यह निवेशक के लिए टॉप-अप करना मुश्किल बना देता है.
पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें

टॉपिक

सिपकॉन्ट्रिब्‍यूशनसामान्‍य सिपनिवेशक

ETPrime stories of the day

Partying the Nolo way: New-age brands are offering choices beyond Pepsi and Coca-Cola
FMCG

Partying the Nolo way: New-age brands are offering choices beyond Pepsi and Coca-Cola

10 mins read
As airlines inch back to normalcy, vacant middle seats are a cause of worry
Recent hit

As airlines inch back to normalcy, vacant middle seats are a cause of worry

11 mins read
Skill or chance? The USD7 billion question that can make or break India’s online gaming industry.
Policy and regulations

Skill or chance? The USD7 billion question that can make or break India’s online gaming industry.

12 mins read

सक्रिय रूप से मैनेज किए जाने वाले लार्ज कैप म्‍यूचुअल फंड के तौर-तरीकों का पिछले कुछ सालों में सभी को पता लग गया है. कुछ को छोड़ ज्यादातर स्कीमों ने प्रमुख सूचकांकों से कमतर प्रदर्शन किया है.नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) द्वारा भारत के संभावित वृद्धि दर के अनुमान को संशोधित कर छह प्रतिशत करना ‘अत्यधिक कम अनुमान’ है। 15वें वित्त आयोग के चेयरमैन एन के सिंह ने मंगलवार को यह बात कही। आईएमएफ ने कोरोना वायरस महामारी की वजह से भारत की वृद्धि की संभावना को नीचे किया है। सिंह ने अध्ययन एवं औद्योगिक विकास संस्थान (आईएसआईडी) द्वारा ‘विकास के लिए वित्तपोषण’ विषय पर आयोजित ‘ऑनलाइन’ परिचर्चा को संबोधित करते हुए कहा कि यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि जो लोग अभी गरीबी से बचे हुए हैं, वे महामारीम्यूचुअल फंडों का एयूएम 41% बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये पहुंचा

नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) में लोगों की दिलचस्पी बढ़ाने की कई कोशिश की जा रही है.नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) सैमसंग इंडिया इलेक्ट्रॉनिक्स का बीते वित्त वर्ष 2020-21 का शुद्ध लाभ 39 प्रतिशत बढ़कर 4,040.9 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। हालांकि, वित्त वर्ष के दौरान कंपनी की परिचालन आय 75,886.3 करोड़ रुपये पर स्थिर रही। इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र की दिग्गज कंपनी के भारत में कारोबार में मोबाइल फोन खंड का हिस्सा सबसे अधिक है। इससे पिछले वित्त वर्ष 2019-20 में कंपनी का शुद्ध लाभ 2,902.6 करोड़ रुपये और परिचालन आय 75,451.5 करोड़ रुपये रही थी। बाजार और कंपनी के बारे में सूचना देने वाली कंपनी टॉफलर ने कंपनी पंजीयक के पास जमा कराए गए दस्तावेजोंदेश में साइबर सुरक्षा के लिये कोई ‘जवाबदेह’ केंद्रीय संगठन नहीं: राजेश पंत

नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) मौजूदा कोयला संकट जारी रहने पर एल्युमीनियम मूल्य श्रृंखला से जुड़े 5,000 से अधिक लघु और मझोले आकार के उद्यमों (एसएमई) को भारी नुकसान का अंदेशा है। भारतीय औद्योगिक मूल्य श्रृंखला परिषद (आईआईवीसीसी) के अनुसार, यदि प्राथमिक एल्युमीनियम उद्योग के वर्तमान कोयला संकट का तत्काल समाधान नहीं किया गया तो इन एसएमई को भारी नुकसान उठाना पड़ेगा। कोल इंडिया का घरेलू कोयला उत्पादन में 80 प्रतिशत से अधिक का योगदान है। कोल इंडिया ताप विद्युत संयंत्रों में कम स्टॉक की स्थिति को देखते हुए अस्थायी रूप से बिजली क्षेत्रभारतीय नियामकों का ऐसी करेंसी को लेकर रुख स्पष्ट नहीं है. उन्‍होंने साफ-साफ कुछ भी नहीं कहा है कि भारतीय इनमें ट्रेड करें या नहीं.जिंदल स्टेनलेस का दूसरी तिमाही का शुद्ध लाभ पांच गुना बढ़कर 412 करोड़ रुपये पर

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
लॉटरी पिक 3 लॉटरी

नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) विदेशी बाजारों में तेजी के रुख से दिल्ली मंडी में मंगलवार को सरसों, सोयाबीन, सीपीओ और पामोलीन तेल- तिलहन के भाव में मजबूती रही जबकि अधिक फसल के बीच ऊंचे भाव के कारण मांग कमजोर होने से मूंगफली तेल-तिलहन और बिनौला तेल के भाव में गिरावट आई। बाकी भाव पूर्ववत बने रहे। बाजार सूत्रों ने कहा कि मलेशिया एक्सचेंज में 0.85 प्रतिशत की तेजी थी जबकि शिकॉगो एक्सचेंज 0.2 प्रतिशत तेज है। उन्होंने कहा कि त्योहारी मांग होने और स्टॉक की कमी के कारण सरसों तेल-तिलहन में सुधार है जबकि सस्ता बैठने के कारण आम लोगों

पांच या सात में से सर्वश्रेष्ठ एएलसी

अगर आप युवा (20 के पड़ाव में) हैं और रिटायरमेंट के लिए बचत शुरू करना चाहते हैं तो आपका निवेश इक्विटी म्‍यूचुअल फंड में ज्‍यादा होना चाहिए.

शर्त लगाने के लिए ऑनलाइन एक कोड खरीदें

नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) विदेशी बाजारों में तेजी के रुख से दिल्ली मंडी में मंगलवार को सरसों, सोयाबीन, सीपीओ और पामोलीन तेल- तिलहन के भाव में मजबूती रही जबकि अधिक फसल के बीच ऊंचे भाव के कारण मांग कमजोर होने से मूंगफली तेल-तिलहन और बिनौला तेल के भाव में गिरावट आई। बाकी भाव पूर्ववत बने रहे। बाजार सूत्रों ने कहा कि मलेशिया एक्सचेंज में 0.85 प्रतिशत की तेजी थी जबकि शिकॉगो एक्सचेंज 0.2 प्रतिशत तेज है। उन्होंने कहा कि त्योहारी मांग होने और स्टॉक की कमी के कारण सरसों तेल-तिलहन में सुधार है जबकि सस्ता बैठने के कारण आम लोगों

लवबेथ

नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) सैमसंग इंडिया इलेक्ट्रॉनिक्स का बीते वित्त वर्ष 2020-21 का शुद्ध लाभ 39 प्रतिशत बढ़कर 4,040.9 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। हालांकि, वित्त वर्ष के दौरान कंपनी की परिचालन आय 75,886.3 करोड़ रुपये पर स्थिर रही। इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र की दिग्गज कंपनी के भारत में कारोबार में मोबाइल फोन खंड का हिस्सा सबसे अधिक है। इससे पिछले वित्त वर्ष 2019-20 में कंपनी का शुद्ध लाभ 2,902.6 करोड़ रुपये और परिचालन आय 75,451.5 करोड़ रुपये रही थी। बाजार और कंपनी के बारे में सूचना देने वाली कंपनी टॉफलर ने कंपनी पंजीयक के पास जमा कराए गए दस्तावेजों

स्पोर्ट्सबुक ट्रेडर वेतन

सामान्‍य सिप के मामले में निवेशक सिप की अवधि में अपना कॉन्ट्रिब्‍यूशन नहीं बढ़ा सकते हैं. अगर वे इसे बढ़ाना चाहते हैं तो उन्‍हें नए सिरे से सिप शुरू करना होगा या एकमुश्त निवेश करने की जरूरत होगी.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी
ऑनलाइन कैसीनो डेमो

नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) प्रतिभूति अपीलीय न्यायाधिकरण (सैट) ने बाजार नियामक सेबी के आदेश पर आंशिक रूप से रोक लगाकर कोटक महिंद्रा एसेट मैनेजमेंट कंपनी को राहत दी है। सेबी ने अपने आदेश में कोटक महिंद्रा एसेट मैनेजमेंट कंपनी को यूनिटधारकों से लिये गये निवेश प्रबंधन और परामर्श शुल्क का एक हिस्सा लौटाने को कहा था। इसके अलावा, अपीलीय न्यायाधिकरण ने संपत्ति प्रबंधन कंपनी (एएमसी) से चार सप्ताह के भीतर ब्याज वाले खाते में 20 लाख रुपये जमा करने को कहा है। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने अगस्त में एएमसी से छह ‘फिक्स्ड मैच्यूरिटी प्लान’ (एफएमपी) योजनाओं

हर बार बैकरेट बैंकर खोले जाने की प्रायिकता क्या है?

नयी दिल्ली, 26 अक्टूबर (भाषा) प्रतिभूति अपीलीय न्यायाधिकरण (सैट) ने बाजार नियामक सेबी के आदेश पर आंशिक रूप से रोक लगाकर कोटक महिंद्रा एसेट मैनेजमेंट कंपनी को राहत दी है। सेबी ने अपने आदेश में कोटक महिंद्रा एसेट मैनेजमेंट कंपनी को यूनिटधारकों से लिये गये निवेश प्रबंधन और परामर्श शुल्क का एक हिस्सा लौटाने को कहा था। इसके अलावा, अपीलीय न्यायाधिकरण ने संपत्ति प्रबंधन कंपनी (एएमसी) से चार सप्ताह के भीतर ब्याज वाले खाते में 20 लाख रुपये जमा करने को कहा है। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने अगस्त में एएमसी से छह ‘फिक्स्ड मैच्यूरिटी प्लान’ (एफएमपी) योजनाओं