खेल 0

Publishing time:2021-10-17 19:52:54

तीन पत्ती एपीके मोड खेल 0 betway क्रिकेट,fun88 मोबाइल ऐप,lovebet 4 इस सप्ताह स्कोर करने के लिए,lovebet हेल्पलाइन,lovebet टा बोर्त,१० क्रिकेट,बैकरेट एजेंसी वेबसाइट,बैकारेट तेल,सर्वश्रेष्ठ जंबो पांच साल की सीडी दरें,बोन्स ज़ेन,कैसीनो का खेलो,शतरंज 960 रणनीति,क्रिकेट पुस्तक चरित्र,क्रिकेट विश्व कप जीके पीडीएफ,यूरो फुटबॉल,फ़ुटबॉल औ ज्यूक्स ओलम्पिकसवाल,जी कैसीनो कोवेंट्री,खुश किसान कुत्ता खाना,मैं लवबेट तक नहीं पहुंच सकता,जे पोकर,ला कैसीनो मेरे पास,लाइव कैसीनो वीआईपी,लॉटरी जीतने का टोटका,लूडो व्हाट्सएप ग्रुप,ऑनलाइन कैश बैकरेट गेम,ऑनलाइन गेम फ्री फायर खेलें,ऑनलाइन स्लॉट इलिनोइस,बिंदु रम्मी ज़ूम,पोकर युद्ध मशीनें,रूले लाइव गोल्डबेट,रम्मी सर्कल कस्टमर केयर मोबाइल नंबर,रम्मीकल्चर निकासी डाउनलोड,स्लॉट्स ई स्लैट्स,खेल समाचार सुर्खियों,तीन पत्ती दैनिक बोनस,सबसे गर्म बोर्ड गेम पिंग,बैकरेट पेपर रोड का दृश्य,वाइल्डज़ बोनस कोड ओहने आइंज़ाहलुंग,cricket हिंदी न्यूज़,करीना घंटाघर घुमा,क्रिकेट भर्ती फॉर्म,चेस रूल्स,पक्षी और जानवर मल्टीप्लेयर संस्करण,बरसात फिल्म का गाना,रमी प्रो,स्टेटस तिरंगा, .सिर्फ 10% कर्मचारी ऑफिस लौटे : रिपोर्ट

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

सिर्फ 10% कर्मचारी ऑफिस लौटे : रिपोर्ट

बेंगलुरु और हैदराबाद में यह आंकड़ा 5 फीसदी से भी कम है. वहीं, मुंबई और दिल्‍ली-एनसीआर में यह संख्‍या 20 फीसदी से ज्‍यादा है.
बेंगलुरु : मार्च में सामान्‍य स्‍तर से नवंबर के अंत तक सिर्फ 10 फीसदी कर्मचारी ऑफिस लौटे थे. वर्कइनसिंक के आंकड़ों से इसका पता चलता है. यह कंपनियों को टेक सॉल्‍यूशन उपलब्‍ध कराती है. बेंगलुरु और हैदराबाद में यह आंकड़ा 5 फीसदी से भी कम है. वहीं, मुंबई और दिल्‍ली-एनसीआर में यह संख्‍या 20 फीसदी से ज्‍यादा है.

फार्मा, आईटी, आईटीईएस और बीपीओ सेक्‍टर के कर्मचारी अधिक रफ्तार से ऑफिस लौट रहे हैं. इनमें यह रेट 16 फीसदी से 27 फीसदी तक है. वहीं, शुद्ध सॉफ्टवेयर प्रोडक्‍ट कंपनियों में यह रेट सिर्फ 3 फीसदी है. इंफोसिस, विप्रो और टीसीएस जैसी कंपनियों में कुल कर्मचारियों में से केवल 5 फीसदी ऑफिस से काम कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? ये 6 बातें करेंगी आपकी मदद

master

महानगरों में यह आंकड़ा 10 फीसदी है. वहीं, बाकी के देश में 20 फीसदी. आंकड़ों से यह भी पता चलता है कि पुरुषों के मुकाबले महिला कर्मचारी ऑफिस लौटने में अधिक तत्‍पर हैं.

इसे भी पढ़ें : कार खरीदने के लिए आसानी से मिलेगा लोन, मारुति सुजुकी ने शुरू की यह नई सुविधा

वर्कइनसिंक के सीईओ दीपेश अग्रवाल ने कहा कि अगले साल मई तक आईटी, आईटीईएस और बीपीओ सेक्‍टर में कर्मचारियों के ऑफिस वापसी का लेवल कोरोना से पहले के स्‍तर के 50 फीसदी तक पहुंच सकता है. वहीं, सितंबर तक इसके 80 फीसदी तक पहुंचने के आसार हैं. सब कुछ काेराेना की वैक्‍सीन आने पर निर्भर करेगा.

उन्‍होंने कहा कि अनलॉक के दूसरे चरण से कर्मचारियों ने ऑफिस लौटना शुरू किया है. लेकिन, जिस तरह से उनकी वापसी हुई है, वह पहले की तुलना में काफी अलग है. अगले कुछ महीनों में ज्‍यादा कर्मचारी ऑफिस से काम करेंगे.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

ऑफिस वापसीवर्कइनसिंकबेंगलुरुर‍िपोर्टकोरोना वैक्‍सीनहैदराबाद

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business
Markets

Rooms and reservations: what Oyo’s DRHP tells and does not tell us about its business

8 mins read
Still taxiing: Akasa Air, Jet Airways continue to wait for green signal. When will they take off?
Aviation

Still taxiing: Akasa Air, Jet Airways continue to wait for green signal. When will they take off?

15 mins read
सिर्फ 10% कर्मचारी ऑफिस लौटे : रिपोर्ट

साल में कम से कम एक बार निवेश की समीक्षा जरूर करें और उसे दोबारा बैलेंस करें.पिछले साल से अब तक बड़े उतार-चढ़ाव हुए हैं. लोगों ने कोरोना की महामारी के कहर को देखा और अब जिंदगी को पटरी पर लौटते देख रहे हैं. शायद ही यह दौर भुलाए भूलेगा. हालांकि, इससे कई सबक भी मिले हैं. ये करियर में आगे बढ़ने में मदद कर सकते हैं. आइए, यहां उनके बारे में जानते हैं.टीसीएस ने छह महीनों में दूसरी बढ़ाई सैलरी, जानिए क्या है वजह?

महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.इंडेक्‍स फंडों की तरह ईटीएफ अमूमन किसी खास मार्केट इंडेक्स को ट्रैक करते हैं. इनका प्रदर्शन उस इंडेक्‍स जैसा होता है.कितनी सेफ है आपकी जॉब? खतरों के इन 7 संकेतों के बारे में जान लें

कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.जब संस्‍थान में किसी कर्मचारी को नौकरी छोड़ने के लिए कहा जाता है तो वे आमतौर पर चौंक जाते हैं. लेकिन, कई मामलों में इसके संकेत पहले से मिलने लगते हैं. बात सिर्फ इतनी होती है कि कर्मचारी इन संकेतों का मतलब समझकर सुधार की दिशा में कदम नहीं उठा पाते हैं. आइए, यहां ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में जानते हैं.सुपर साइकिल का ऐसे उठाएं फायदा, इन कमोडिटीज पर लगाएं दांव

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


लॉटरी x
fun88 लिंक्डइन
लियोवेगैस इंडिया विदड्रॉल
बैकारेट प्रेडिक्टिव मेथड
लॉटरी का टिकट कैसे खरीदे
रूले लाइव विंसियर
पारिमैच सट्टेबाजी युक्तियाँ
लाइव कैसीनो विलियम हिल
तीन पत्ती हैक APK
बकरा उत्तराखंड
लियोवेगास इंडिया लॉगिन
कैसीनो के खेल football
कैसीनो प्रश्नोत्तरी 40 उत्तर
जोकर झुर्रियां
लूडो तेज़
रमी रॉयल
क्रिकेट यूट्यूब चैनल
महजोंग सॉलिटेयर
नंबर एक ऑनलाइन सट्टेबाजी
दुनिया के शीर्ष तीन सट्टेबाजी
आईपीएल नौकरियां 2021
भारत में सट्टेबाजी के खेल
lovebet ऑनलाइन
कैसीनो शुक्रवार
क्षत्रिय स्टेटस हिंदी
आईपीएल मैच कब है
प्ले बो फोरम