सट्टेबाज की जीत

सट्टेबाज की जीत

time:2021-10-27 07:57:29 आईटी और रिटेल सेक्‍टर में मार्च में हुईंं ज्‍यादा भर्तियां : रिपोर्ट Views:4591

लाइव लाठी धान की शक्ति सट्टेबाज की जीत 10cric निकासी समीक्षाएँ,casumo आयरलैंड,लीवगैस रिक्तियां,lovebet दा पारा गंहर दिनहिरो,lovebet पुराना संस्करण,lovebet.com सट्टेबाजी,या कैसीनो kortrijk facebook,बैकारेट गेम मशीन,बैकरेट विजेता,सट्टेबाजी संख्या ऑनलाइन,कैसीनो चुला विस्टा,कैसीनो जीतने के गुर,क्लासिकरम्मी ज़ोन,क्रिकेट मैच लाइव स्कोर,एक पाओ चाय पत्ती,च खेल स्लाइड,फुटबॉल खिलाड़ी जो पिच पर मर गए,उत्पत्ति कैसीनो वीआईपी,फुटबॉल लॉटरी पर ऑनलाइन बेट कैसे लगाएं,आईपीएल प्रश्नोत्तरी,जैकपॉट यंत्र परिणाम,लाइव कैसीनो ऐप,लॉटरी 4.7.2021,भाग्यशाली दिन कैसीनो कोई जमा नहीं,एनबीए प्लेयर रैंकिंग,ऑनलाइन शतरंज और कार्ड रूम,ऑनलाइन पोकर कोई डाउनलोड नहीं,परिमच kz,पोकर जोधपुर,असली दो-आठ बार का खेल,नियम मार्कोवनिकोव,रम्मी विजेता,मेरे पास स्लॉट मशीन,खेल एक शौक,स्पोर्ट्सबुक मेनू,टेक्सास होल्डम प्ले,tr लॉटरी परिणाम रात,बैकारेट मज़ा कहाँ है,y8 रम्मी,ऐलादी गोवा,क्रिकेट india,गोवा टू,तीन पत्ती mahal,बकरा उत्तराखंड,बेटिंग मीनिंग,लॉटरी रिजल्ट आज का, .आईटी और रिटेल सेक्‍टर में मार्च में हुईंं ज्‍यादा भर्तियां : रिपोर्ट

कोविड- 19 की दूसरी लहर को देखते हुए शिक्षा, अध्यापन क्षेत्र में मार्च महीने में नियुक्तियों में 13 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई.
मुंबई : आईटी-सॉफ्टवेयर और खुदरा क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढ़ने की बदौलत मार्च में इससे पिछले महीने के मुकाबले नियुक्ति गतिविधियों में मामूली वृद्धि दर्ज की गई. फरवरी के 2,356 के मुकाबले मार्च 2021 में नौकरियों के विज्ञापन 2,436 दिखे.

नौकरी जॉबस्पीक्स इंडेक्स की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, डिजिटल बदलाव की लहर में सूचना प्रौद्योगिकी-सॉफ्टवेयर क्षेत्र लगातार इससे बचा हुआ है. इसमें मार्च के दौरान नियुक्तियों में 11 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई.

कोरोना वायरस महामारी के कारण खुदरा क्षेत्र पर बुरा प्रभाव पड़ा है. यह क्षेत्र भी फिर से उबरने की राह पर है जिसके तहत माह दर माह नियुक्तियों में पिछले महीने 15 फीसदी की वृद्धि हुई.

इसे भी पढ़ें : सैलरी और पर्क्‍स के पेमेंट के लिए कंपनियों ने शुरू किया क्रिप्‍टोकरेंसी का इस्‍तेमाल

नौकरी जॉबस्पीक एक मासिक सूचकांक है जो कि नौकरी डॉट कॉम वेबसाइट पर डाली जानी वाली नौकरियों के आधार पर नियुक्ति गतिविधियों की गणना करता है और उन्हें रिकॉर्ड करता है.

अर्थव्यवस्था के प्रमुख क्षेत्रों तेल एवं गैस में सात फीसदी, अकाउंटिंग-टैक्सेशन वित्त में छह फीसदी और दूरसंचार आईएसपी में नियुक्ति गतिविधियों में फरवरी के मुकाबले पांच फीसदी वृद्धि दर्ज की गई. वहीं दूसरी तरफ बीपीओ/आईटीईएस और बीएफएसआई में एक फीसदी की सामान्य स्थिति रही.

इसे भी पढ़ें : फ्रेशर्स के लिए मौका, कंपनियां बड़े पैमाने पर कर रही हैं भर्ती

कोविड- 19 की दूसरी लहर को देखते हुए शिक्षा, अध्यापन क्षेत्र में मार्च महीने में नियुक्तियों में 13 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. वहीं त्वरित उपभोग वाले सामानों (एफएमसीजी) में 10 फीसदी और होटल, एयरलाइंस, यात्रा क्षेत्र में आठ फीसदी गिरावट दर्ज की गई.

देश के सभी छह महानगरों और दूसरी श्रेणी के प्रमुख शहरों में मार्च के महीने में माह-दर- माह आधार पर नियुक्तियों में वृद्धि हुई. लेकिन, इसमें कोलकाता, वड़ोदरा में क्रमश: तीन और दो फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. वहीं, दूसरी श्रेणी के शहरों में अहमदाबाद में मार्च में सबसे ज्यादा 13 फीसदी वृद्धि की गई.

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें

टॉपिक

रोजगार के अवसरनियुक्ति गतिविधिखुदरा क्षेत्रनौकरी जॉबस्‍पीक इंडेक्‍सकोरोना वायरस

ETPrime stories of the day

Partying the Nolo way: New-age brands are offering choices beyond Pepsi and Coca-Cola
FMCG

Partying the Nolo way: New-age brands are offering choices beyond Pepsi and Coca-Cola

10 mins read
As airlines inch back to normalcy, vacant middle seats are a cause of worry
Recent hit

As airlines inch back to normalcy, vacant middle seats are a cause of worry

11 mins read
Skill or chance? The USD7 billion question that can make or break India’s online gaming industry.
Policy and regulations

Skill or chance? The USD7 billion question that can make or break India’s online gaming industry.

12 mins read

कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.इस दिन भगवान धन्वंतरि की पूजा की जाती है. विष्णु के अवतार धन्वंतरि को आयुर्वेद का भगवान कहा जाता है. माना जाता है कि उन्होंने मानव जाति को आयुर्वेद का ज्ञान दिया.कोरोना के दौर में सैलरी बढ़ाने के लिए कैसे करें बातचीत?

युवा खासतौर से डायमंड ज्‍वेलरी खरीदने में दिलचस्‍पी लेते हैं. 10,000-20,000 रुपये की रेंज में लो प्राइस डायमंड ज्‍वेलरी के खासतौर से अच्‍छा करने की उम्‍मीद है.आपको अपनी स्किल्‍स का पैसा मिलता है. इस बात का पता करें कि आप जैसी स्किल रखने वाले लोगों को बाहर कितनी सैलरी मिल रही है.रेनॉ की गाड़‍ियां भी जनवरी से होंगी महंगी, 28,000 रुपये तक बढ़ेंगे दाम

भारतीय शहरों में करीब 15 फीसदी कंपनियों की फरवरी से अप्रैल 2021 के बीच फ्रेशर्स को भर्ती करने की योजना है. लर्निंग सॉल्‍यूशंस फर्म टीम लीज एडटेक के सर्वे से इसका पता चलता है. टीमलीज एडटेक के सीईओ शांतनु रूज ने कहा कि कोरोना की महामारी के बावजूद कंपनियों के एजेंडे में फ्रेशर्स की हायरिंग है.अगले साल मई तक आईटी, आईटीईएस और बीपीओ सेक्‍टर में कर्मचारियों के ऑफिस वापसी का लेवल कोरोना से पहले के स्‍तर के 50 फीसदी तक पहुंच सकता है.नेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
लॉटरी कोरा

महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.

lovebet.com

देश में क्रिप्‍टोकरेंसी को लेकर स्थिति बहुत साफ नहीं है. कर्मचारी और कंपनियां दोनों इसे लेकर टैक्‍स के बारे में चिंतित हैं.

फुटबॉल फाइनल

दिग्गज आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान ग्रोथ देने के चलते साल 2021-22 के लिए कर्मचारियों की सैरली बढ़ाई है.

आईपीएल t2 0 क्रिकेट लाइव

पिछले सप्ताह फोर्ड इंडिया ने एक जनवरी से अपने विभिन्न मॉडलों की कीमतों में बढ़ोतरी की घोषणा की थी.

भ cricket time

कीमतों में यह बढ़ोतरी विभिन्‍न मॉडलों में अलग-अलग होगी. यह वास्‍तव में कितनी होगी, इस बारे में जल्‍द ही डीलरों को बताया जाएगा.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी